Tuesday , September , 27 , 2022

गलती से भी इस दिन न खरीदें जूते-चप्पल, जीवन में आ सकती है कई परेशानियां

गलती से भी इस दिन न खरीदें जूते-चप्पल, जीवन में आ सकती है कई परेशानियां

मनुष्य के जीवन में वास्तु शास्त्र एक अहम रोल   हैं। वास्तु शास्त्र में कई ऐसी चीजों के बारे में बताया गया है जिससे जीवन में आ रही परेशानियों से छूटकारा पा सकते है। वहीं कई ऐसी वस्तुएं हैं, जिन्हें किसी विशेष दिन या फिर वक्त पर खरीदना वर्जित भी माना जाता है। इन्हीं कुछ चीजों को लेकर हमारे बड़े-बुजुर्ग हमें अक्सर रोकते-टोंकते रहते है। पर बहुत से लोग उन बातों को अनसुना कर अपने जीवन में आगे बढ़ते है। जिसके बाद परिणाम ये निकलता है कि, सब कुछ सही चलने के बाद भी जीवन में समस्याएं बनी रहती है। आपको जानकर हैरानी होगी कि हम जो भी खरीददारी करते है उससे हमारा गुड लक और बैड लक जुड़ा होता है।


इस दिन न जूते-चप्पल

वास्तु शास्त्र में कई ऐसी चीजों के बारे में बताया गया हैं, जिन्हें खरीदने की मनाही होती है। इन्हीं में से एक है जूते और चप्पल। हर मनुष्य अपनी सुविधा और ज़रूरत के मुताबिक, जूते और चप्पल को खरीदता है, पर वास्तु शास्त्र के मुताबिक, अमावस्या, मंगलवार, शनिवार और ग्रहण वाले दिन जूते और चप्पल नही खरीदना चाहिए। ये अपने साथ दुर्भाग्य लेकर आते है।


ज्योतिष शास्त्र की माने तो, शनि का संबंध हमारे पैरों से माना जाता है। इसलिए अपने अपने बड़े बुजुर्ग से सुना होगा कि शनिवार के दिन जूते-चप्पल नहीं खरीदना चाहिए। शनिवार के दिन जो व्यक्ति जूते-चप्पल खरीदता है उसके ऊपर शनि दोष चढ़ता है। इससे शनि देव आपसे नाराज भी हो सकते है।  


इस दिन खरीदें जूते-चप्पल

वास्तु शास्त्र में बताया गया है कि कब अपको नए जूते-चप्पल खरीदने और उन्हें पहनना चाहिए। नए जूते-चप्पल आप शुक्रवार के दिन खरीदे और रखे हुए नए जूते-चप्पल को शुक्रवार के दिन ही पहनना शुरू करें। ऐसा करने से आपके ऊपर शनि दोष नही चढ़ेगा और शनि देव आपसे नाराज भी नही होंगे। 



Anjali Pandey

Anjali Pandey

anjalipandey1235@gmail.com

Comments

Add Comment