Sunday , November , 27 , 2022

इन लक्षणों को गलती से भी न करें नजरअंदाज, हो सकता है ब्रेस्ट कैंसर का संकेत !

इन लक्षणों को गलती से भी न करें नजरअंदाज, हो सकता है ब्रेस्ट कैंसर का संकेत !
चेस्‍ट की समस्या को नजरंदाज करना बड़ी समस्या को चुनौती दे सकती है। महिलाओं के चेस्‍ट में दर्द, असहज महसूस होना या फिर ब्रेस्‍ट में चुभन होना ये सभी लक्षण सामान्‍य नहीं होते है। ये लक्षण ब्रेस्‍ट कैंसर के संकेत हो सकते हैं। वहीं कई महिलाओं को पीरियड्स के दौरान भी चेस्‍ट और ब्रेस्‍ट में दर्द की समस्‍या हो जाती है, पर  इसका यह मतलब नहीं हैं कि हर किसी को ब्रेस्‍ट कैंसर ही हो। वैसे तो ब्रेस्‍ट कैंसर होने की कोई तय उम्र नहीं होती है। पर 45 से 54 की उम्र के बीच इसके लक्षण अधिक नजर आते हैं। कई लोगों को  ब्रेस्‍ट कैंसर के शुरुआती लक्षणों को पहचानने करने में काफी परेशानी आती है। 

बतादें कि, ब्रेस्‍ट कैंसर जैसी खतरनक बीमारी के लिए फैमिली हिस्‍ट्री या फिर किसी प्रकार की रेडिएशन थैरेपी  जिम्‍मेदार हो सकती है। ब्रेस्‍ट कैंसर एक ऐसी बीमारी होती है, जिसमें कई बार महिलाएं एक दूसरों को बताने में थोड़ा हिचकिचाती है। जिसके कारण यह बीमारी गंभीर स्थिति में बदल जाती है। तो आइए जानते है ब्रेस्‍ट कैंसर के किन लक्षणों को अपको नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। 

ब्रेस्‍ट में बदलाव होना
ब्रेस्‍ट में कुछ बदलाव आम है jobप्राकृतिक होते हैं, उम्र बढ़ने, वेट गेन, मेनोपॉज और प्रेग्‍नेंसी के दौरान हो जाते है। हेल्‍थ डॉट कॉम के मुताबिक,  ब्रेस्‍ट कैंसर होने पर ब्रेस्‍ट में गांठ हो जाती है। जो कि आपके लंम्‍स की तरह हो सकती है। शुरुआत में ये गांठ एक  ही ब्रेस्‍ट में नजर आ सकती है पर ध्‍यान न देने पर ये दूसरे ब्रेस्‍ट में भी हो जाती है। इसके साथ ही ब्रेस्‍ट की स्किन ड्राई, मोटी और पपड़ीदार हो जाती है। इसके साथ ही इसके कलर में भी अपको अंतर दिख सकते है। 

दर्द होना
यादि आपको कैंसर है तो ब्रेस्‍ट मोटा महसूस हो सकता है या फिर उसमें दर्द महसूस हो सकता है। इसके साथ ही ब्रेस्‍ट में दर्द होने पर आपका पूरा चेस्‍ट प्रभावित हो सकता है। शुरुआत में जब ब्रेस्‍ट में गांठ बनने लगती है तब ज्यादा दर्द होने लगता हैं।  

ब्रेस्‍ट कैंसर के कुछ आम लक्षण
  1. लगातार चक्‍कर आते रहना 
  2. कमजोरी मेहसूस होना 
  3. अचानक वजन कम हो जाना 
  4. स्किन डैमेज होना 
  5. खून की कमी हो जाना 
  6. उल्‍टी होना 
  7. चेस्‍ट में दर्द रहना 
  8. चेस्‍ट भारी लगना

Comments

Add Comment