Monday , February , 06 , 2023

आटे की किल्लत तेज होते ही पाकिस्तान में मची भगदड़

आटे की किल्लत तेज होते ही पाकिस्तान में मची भगदड़

नई दिल्ली। सिंध सरकार द्वारा लोगों को सब्सिडी वाले आटे की बिक्री में गड़बड़ी के कारण मीरपुरखास जिले में भगदड़ के दौरान सात बच्चों के पिता एक व्यक्ति की मौत हो गई। द एक्सप्रेस ट्रिब्यून की खबर के मुताबिक मौत आयुक्त कार्यालय के पास हुई, जहां गुलिस्तान-ए-बलदिया पार्क के बाहर 200-200 बैग ले जा रहे दो मिनी ट्रक आटा बेच रहे थे।


मिनी ट्रक 65 रुपये प्रति किलो की दर से 10-10 किलो के आटे के बैग बेच रहे थे। लोग अव्यवस्थित तरीके से वाहनों के चारों ओर जमा हो गए थे। बैग हथियाने के लिए एक-दूसरे को धक्का दे रहे थे।


द एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने बताया, पुलिस के अनुसार 40 वर्षीय मजदूर हरसिंह कोल्ही हंगामे के दौरान सड़क पर गिर गया और आसपास के लोगों ने उसे कुचल दिया। भगदड़ किस वजह से हुई, इसका अभी पता नहीं चल पाया है। कोल्ही के परिवार ने खाद्य विभाग के अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर मीरपुरखास प्रेस क्लब के बाहर पांच घंटे तक धरना दिया। पुलिस द्वारा हादसे के लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई का आश्वासन देने के बाद वे चले गए। अभी तक घटना की प्राथमिकी दर्ज नहीं कराई गई है। सिंध के सभी हिस्सों में अराजकता के ऐसे ही ²श्य देखे गए जहां मिनी ट्रकों या वैन के माध्यम से आटा बेचा जा रहा था।


एक अन्य मामले में शहीद बेनजीराबाद (पूर्व में नवाबशाह) के सकरंद कस्बे में एक आटा चक्की के बाहर सरकारी दर पर सस्ता आटा खरीदते समय भगदड़ मचने से एक नाबालिग लड़की सहित तीन महिलाएं घायल होने की सूचना है।


जारी संकट के बीच गेहूं और आटे की कीमतें अभूतपूर्व स्तर पर पहुंच गई हैं। पाकिस्तान में 20 रुपये की तेजी के बाद कराची में आटा 140 रुपये किलो से 160 रुपये किलो बिक रहा है। इस्लामाबाद और पेशावर में 10 किलो आटे की बोरी 1500 रुपये प्रति किलो बिक रही है। क्वेटा में 20 किलो आटे की बोरी 2,800 रुपये में बिक रही है।


द एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने बताया, इस बीच बलूचिस्तान के खाद्य मंत्री जमारक अचकजई ने भी एक चौंकाने वाला रहस्योद्घाटन किया, जिसमें कहा गया कि प्रांत में गेहूं का स्टॉक पूरी तरह से समाप्त हो गया है, और कहा कि प्रांत में कमोडिटी के लिए संकट गहरा है।


इस मुद्दे पर एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए प्रांतीय मंत्री ने कहा कि बलूचिस्तान को गेहूं का आवश्यक स्टॉक नहीं मिला है। उन्होंने कहा पंजाब प्रांत के मुख्यमंत्री से 6 लाख बोरी गेहूं भेजने का अनुरोध किया गया है।

Sanju Suryawanshi

Sanju Suryawanshi

sanju@newsworld.com

Comments

Add Comment