Monday , February , 06 , 2023

भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में रणनीति बनाने और सरकार की उपलब्धियों को जनता तक पहुंचाने पर होगा फोकस

भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में रणनीति बनाने और सरकार की उपलब्धियों को जनता तक पहुंचाने पर होगा फोकस

नई दिल्ली। सोमवार से शुरू होने जा रही भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी की दो दिवसीय बैठक का मुख्य एजेंडा चुनावी राज्यों की रणनीति बनाने और मोदी सरकार की उपलब्धियों को जन-जन तक पहुंचाने के तौर तरीकों को निर्धारित करना ही होने जा रहा है।


बताया जा रहा है कि इन दोनों ही प्रमुख एजेंडे पर कार्यकारिणी की बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा दिया जाने वाला भाषण आकर्षण का केंद्र बिंदु रहने वाला है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कार्यकारिणी की बैठक के दूसरे और अंतिम दिन मंगलवार, 17 जनवरी को अपने समापन मार्गदर्शन भाषण में देश भर से आए भाजपा नेताओं को आगामी विधानसभा चुनावों और 2024 के लोक सभा चुनाव की तैयारियों को लेकर मंत्र देंगे और साथ ही भारत को मिली जी-20 की अध्यक्षता से जुड़े कार्यक्रमों में ज्यादा से ज्यादा जनभागीदारी सुनिश्चित करने का भी आह्वान करेंगे।


आपको बता दें कि भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी की दो दिवसीय बैठक इस बार 16 और 17 जनवरी को देश की राजधानी दिल्ली में होने जा रही है। सोमवार 16 जनवरी को सुबह 10 बजे भाजपा मुख्यालय में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की अध्यक्षता में पार्टी के राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक होगी, जिसमें राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक के एजेंडे पर अंतिम मुहर लगाई जाएगी।


इसके बाद सोमवार, 16 जनवरी को ही शाम 4 बजे राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक औपचारिक तौर पर नई दिल्ली के एनडीएमसी कन्वेंशन सेंटर में शुरू होगी। भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के अध्यक्षीय भाषण से कार्यकारिणी बैठक की शुरूआत होगी और इस दो दिवसीय बैठक का समापन मंगलवार, 17 जनवरी को शाम 4 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन भाषण के साथ होने की संभावना है।


बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, राजनाथ सिंह और बी एल संतोष के अलावा भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री, मोदी सरकार के मंत्री, पार्टी के सभी राष्ट्रीय पदाधिकारी और राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सभी नेता शामिल होंगे।


बताया जा रहा है कि राष्ट्रीय कार्यकारिणी की इसी बैठक में पार्टी के वर्तमान राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा का अध्यक्षीय कार्यकाल 2024 लोक सभा चुनाव तक बढ़ाने के प्रस्ताव पर मुहर लगाई जा सकती है।


इसके अलावा कार्यकारिणी की बैठक में विभिन्न क्षेत्रों में मोदी सरकार द्वारा हासिल की गई उपलब्धियों और भारत को मिली जी-20 की अध्यक्षता से जुड़े प्रस्ताव भी पारित हो सकते हैं। इन महत्वपूर्ण प्रस्तावों पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह एवं रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत पार्टी के कई अन्य नेताओं का भाषण भी बैठक में हो सकता है।


कार्यकारिणी बैठक के एजेंडे में संगठनात्मक और समसामयिक विषयों के साथ ही आगामी विधान सभा चुनाव की तैयारियों पर चर्चा भी शामिल है। बैठक में हैदराबाद में हुई पिछली बैठक के बाद से लेकर अब तक की प्रमुख गतिविधियों एवं कार्यक्रमों की रिपोर्ट रखी जाएगी और आगामी कार्यक्रमों एवं रणनीति पर विस्तृत चर्चा भी की जाएगी।


दरअसल, 2024 में होने वाले लोक सभा चुनाव से पहले वर्ष 2023 में राजस्थान, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, कर्नाटक, तेलंगाना, त्रिपुरा,मेघालय, नागालैंड, मिजोरम और जम्मू कश्मीर सहित कुल मिलाकर 10 राज्यों एवं केंदशासित प्रदेश में विधान सभा चुनाव होना है। इसे देखते हुए भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में ही चुनावी रणनीति तैयार होनी है।


भाजपा इसी बैठक में न केवल आगामी विधान सभा चुनाव की रणनीति तय करेगी बल्कि इसके साथ-साथ 2024 के लोक सभा चुनाव का एजेंडा भी तय कर देगी। लोक सभा की कमजोर माने जाने वाली 160 सीटों पर तैयारी की चर्चा भी बैठक में होने की संभावना है।

Sanju Suryawanshi

Sanju Suryawanshi

sanju@newsworld.com

Comments

Add Comment